बप्पी लहरी का जीवन परिचय

Spread the love

बप्पी लहरी का जीवन परिचय, बॉलीवुड में गायकी के महान नायक बप्पी लहरी फिल्म के गायकी में सम्राट थे। बप्पी दा को बॉलीवुड के प्रथम ‘रॉक स्टार’ कहा जाता है। बप्पी लहरी ने बॉलीवुड के गानों में पॉप का रंग भरा एवं भारत के लोगों को एक नवीन स्वाद प्रदान किया है।

बप्पी लहरी का जीवन परिचय

बप्पी लहरी का नाम लोगों के जानकारी होते ही उनके गानों पर झूमते लगते थे। आज बप्पी लहरी का

बप्पी लहरी का सोने से लगाव

बप्पी लहरी की एक प्रमुख चाहत थी वह है सोने धातु से लगाव। उनके गले में मोटी सोने की चेन एवं हाथों में बहुत सी अगूठियाँ। बहुत से लोग बप्पी लहरी को सोने की दुकान तक कहा। परंतु बप्पी लहरी सोना अपने लिए भाग्यशाली मानते है।

बप्पी लहरी का जीवन परिचय

पूरा नाम आलोकेश लाहिड़ी
उपनाम बप्पी दा,डिस्को किंग
जन्म 27 नवंबर 1952
जन्म स्थान जलपाईगुड़ी (पश्चिम बंगाल)
पिता का नाम अपरेश लाहीरी
माता का नाम बंसारी लाहिरी
पत्नी का नाम चित्राणी लाहिरी
संतान बप्पा लाहिरी
धर्म हिन्दू
जाति बारेन्द्र ब्राह्मण
नेटवर्थ 22 करोड़
मृत्यु 15 फरवरी 2022 मुंबई

बप्पी लहरी का जीवन परिचय : जन्म

बप्पी लहरी का जन्म 27 नवंबर 1952 को कोलकाता में हुआ था। बप्पी दा एक धनी संगीत परिवार से थे। बप्पी लहरी के पिता का नाम अपरेश लहरी था, जो एक प्रसिद्धि बंगाली गायक थे। इनकी माता जी का नाम बांसरी  लहरी था। जो यह भी बांग्ला की संगीतकार थी। बप्पी लहरी अपने माता-पिता के अकेले संतान थे।

बप्पी लहरी का जीवन परिचय :  संगीत की शिक्षा

बप्पी लहरी बचपन से ही संगीत के क्षेत्र में एक महान कामयाबी पाना चाहते थे। इस लिए वे तीन वर्ष की आयु में ही तबला के साथ-साथ संगीत की शिक्षा प्रारंभ कर दी। संगीतकार किशोर कुमार एवं एस मुखर्जी उनके संबंधी है। बप्पी दा संगीत अपने माता-पिता से ही सीखी। बप्पी दा 19 वर्ष की आयु में प्रथम बार बंगाली फिल्म (दादू) में गाना गाया

बप्पी लहरी का जीवन परिचय : संगीतकार बप्पी लहरी का व्यक्तित्व

बप्पी लहरी का व्यक्तित्व एवं उनके स्टाइल पर नजर से देखा जाय तो वे महगें सोने के गहने पहनते थे। और वे सदैव रॉकस्टार की छवि में नजर आते थे। उनके भीतर भारतीय रंग के साथ-साथ विदेशों के भी रंग नजर आते थे। वे अधिकतर विदेशों के फैशन में नजर आते थे। उनके पहनावा में अधिकतर ट्रैक-सूट अथवा कुर्ता पैजामा में नजर आते थे। बप्पी दा हमेशा धूप का चश्मा ही लगाते थे।

बप्पी लहरी का बॉलीवुड में करियर

बप्पी लहरी 19 वर्ष की आयु में ही अपना नाम बॉलीवुड में रोशन करने के लिए मुंबई चले गए।1973 में उन्हें हिन्दी फिल्म नन्हा शिकारी में गाने का मौका मिला। बॉलीवुड में उन्हे हकीकत की पहचान 1975 में जख्मी फिल्म से मिली। इस फिल्म में बप्पी लहरी मोहम्मद रफी एवं किशोर कुमार के साथ काम करने का मौका मिला।इसके पश्चात बप्पी लहरी के गाने हर व्यक्ति की जुबान पर झूमने लगा।

बप्पी लहरी मिथुन चक्रवर्ती के साथ भी काम किया। इन दोनों महानायकों की जोड़ी ने बॉलीवुड में ऐसी धूम मचाई की सब लोग डांस एवं डिस्को म्यूजिक के दीवाने हो गए। उन्होंने साथ मिलकर डिस्को डांसर,डांस-डांस, कसम पैदा करने वाले की जैसी हिन्दी फिल्मों में काम किया।

हिन्दी सिनेमा में कुछ बिना छेड़छाड़ किए बप्पी लहरी ने संगीत की दुनिया को नई दिशा प्रदान की। बप्पी दा ने अपने एल्बम में अशोक कुमार एवं आशा भोसलें की आवाज का बखूबी प्रयोग किया। एलिषा छीने एवं उथुप के साथ मिलकर उन्होंने काफी हिट नंबर दिए।

बप्पी लहरी के कुछ खास गाने

बप्पी लहरी के हिट गानों में याद आ रहा है एवं सुपर डांसर (डिस्को-डांसर), बाम्बे से आया मेरा दोस्त(आप की खातिर),ऐसे जीना भी क्या जीना है(कसम पैदा करने वाले की), प्यार चाहिए मुझे जीने के लिए, (मनोकामना)रात बाकी, नमक हलाल, यार बिना चैन कहाँ रे(साहब), ऊ ला ला ऊ ला ला(द डर्टी पिक्चर)। 

बप्पी लहरी के पुरस्कार

बप्पी दा को फिल्म शराबी के लिए सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशक का फिल्मफेयर अवार्ड्स से सम्मानित किया गया था।उस समय के महामहिम राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह के द्वारा फिल्म थानेदार 1990 में सर्वश्रेष्ठ संगीत स्कोर के लिए भी नवाजा गया था।

बप्पी लहरी का जीवन परिचय : बप्पी लहरी का नेटवर्थ

बप्पी दा की नेटवर्थ एक रिपोर्ट के आधार पर लगभग 22 करोड़ रुपये की संपत्ति है।

आप इसे भी पढ़ें 

स्वामी विवेकानंद का जीवन परिचय

फातिमा शेख का जीवन परिचय

सिंधु नदी तंत्र

राजस्थान टेक्निकल हेल्फर भर्ती 2022

 


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.